Thursday, 18 August 2011

फोस्फोरस (Phosphorus)

यह व्यक्ति जब अपनी सकारात्मक अवस्था में होता है तो कोमल ह्रदय वाला, प्रेम भाव से परिपूर्ण ऐसा होता है. यह दिखने में खुबसूरत और अदाओ में मोहक होता है.

जब वह अपनी नकारात्मक अवस्था में जाता है तो चिडचिडा हो जाता है. यह भी संभव है की वह बहोत कामुक हो जाए.

लक्षणों की चंचलता यहाँ देखी जा सकती है. ऐसा भी संभव है की इस व्यक्ति का शारीरिक विकास अपनी उम्र के हिसाब से अधिक होने से उसमे कमजोरी होती है. इस व्यक्ति के फेफड़े कमजोर हो सकते है. और उसे टी.बी. का इतिहास होने का भी अंदेशा है.

दात के दर्द पर यह काम करती है.  डेंटिस्ट के यहाँ दात निकालने के बाद यदि रक्त प्रवाह रुकता नहीं है तो यह दवा प्रयुक्त होती है.

औरतो में यदि बूंद बूंद प्रदर लम्बे काल तक होता है तो यह दवा काम कर सकती है.

मर्दों में संभव है की कामुकता बढ़ने से मर्दानगी में कमी आ जाये.

ऐसी संभावना है की इस व्यक्ति को बिस्तर पर लेटने के बाद काफी समय तक नींद नहीं आये.

यह व्यक्ति खुली हवा और ठंडक पसंद करता है. पानी कम पिता है. आइस क्रीम खाना पसंद करता है.

इस व्यक्ति को रात में डर लग सकता है.

भूख के कमी और पीलिया पर भी इसका प्रभाव है.

2 comments:

  1. एक सज्जन के आँख से पानी बहता था. डाक्टर ने कहा की उनकी रेटिना को क्षति हुई है. उनको फोस्फोरस २०० की ३ खुराक देने से आँख से पानी बहना बंद हो गया.

    ReplyDelete
  2. Sir mai bhut jyada sigrate pita hoo,chodne ka upay btao

    ReplyDelete